ड्रोन ही नहीं हेलीकाप्टर से भी कांवर यात्रा की निगरानी

योगी सरकार

ड्रोन ही नहीं हेलीकाप्टर से भी कांवर यात्रा की निगरानी. इस बार कांवर यात्रा में हर बार से अधिक भीड़ उमडऩे की संभावना है। ऐसे में सुरक्षा-व्यवस्था की तैयारियां अभी से शुरू हो चुकी हैं। कांवरियों की सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त के क्रम में ड्रोन ही नहीं बल्कि हेलीकाप्टर से भी निगरानी की तैयारी है। सावन में कांवर यात्रा के दौरान पिछली बार की तरह डीजे पर प्रतिबंध रहेगा लेकिन, भजन-कीर्तन की धुन पर कांवरिये नाचते-गाते जा सकेंगे।

यह  भी पढ़े:-भीख मांगकर बच्चों ने किया मां का दाह संस्कार
सावन माह की तैयारियों की समीक्षा के लिए सोमवार को प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार और डीजीपी सुलखान सिंह वाराणसी में थे। प्रमुख सचिव गृह व डीजीपी सुलखान सिंह ने कहा कि कांवरिये स्पीकर पर गाने बजा सकते हैं। इस पर कोई रोक नहीं है। एक स्पीकर बिना एम्पलीफायर कांवरियों संग चलता है तो इसे न रोकने का निर्देश पुलिस को दिया गया है। सड़कों की दुर्दशा पर अधिकारियों ने चिंता जताते हुए कांवर यात्रा से पहले सात जुलाई तक हर हाल में दुरुस्त करने के निर्देश दिये। अधिकारियों ने बाबा दरबार में मत्था टेकने के साथ वहां की सुरक्षा व्यवस्था का भी जायजा लिया।

प्रमुख सचिव (गृह) ने समीक्षा बैठक में पीडब्ल्यूडी, नगर निगम, रेलवे, विद्युत विभाग, रोडवेज समेत दूसरे विभागों के अफसरों को भी बुलाया था। उन्हें स्पष्ट निर्देश दिए गए कि मुख्य मार्गों पर खोदाई नहीं की जायेगी। 24 घंटे विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने को भी कहा गया। पेयजल की उपलब्धता पर भी जोर दिया गया है। परिवहन और ट्रैफिक पुलिस नजर रखे कि चालक शराब पीकर बस न चलाएं।

कांवर मार्ग में पडऩे वाले प्राइवेट अस्पताल से पहले ही तालमेल कर लिया जाये, ताकि आपात स्थिति में चिकित्सकीय सुविधा मिल सके। रेलवे अधिकारियों से अंतिम समय में प्लेटफार्म न बदलने को कहा गया। ताकि भगदड़ न हो। मिश्रित आबादी वाले इलाकों में शांति समिति की बैठक करने का भी निर्देश दिया गया।

डीजीपी ने बताया कि कांवरियों को सुविधा व सुरक्षा उपलब्ध कराने के लिए हर जिले का अलग कंट्रोल रूम बनाया जा रहा है। हर बार की तरह जीटी रोड की एक लेन कांवरियों के लिए आरक्षित रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

GALIYARA