जापान उत्तर प्रदेश में दस हजार करोड़ रुपये का निवेश करेगा

राशन घोटाला

जापान उत्तर प्रदेश में दस हजार करोड़ रुपये का निवेश करेगा। इसके लिए जापान उत्तर प्रदेश में निवेश की संभावनाओं को टटोल रहा है। हालांकि जापान उत्तर प्रदेश में निवेश दिल्ली से सटे इलाकों में करना चाहता है। क्योंकि इस इलाकों में इंफ्रास्ट्रक्चर बेहतर है। इसके साथ ही फिनलैंड भी यूपी में निवेश करने की योजना बना रहा है। यूपी सरकार जापानी निवेशकों के लिए एक स्पेशल जोन बनाएगी और इसमें सिर्फ जापानी कंपनियां ही निवेश करेगी।

यह भी पढ़े:-अखिलेश यादव ने बनाई समाजवादी डिजिटल फोर्स.

उत्तर प्रदेश​ में निवेश की संभावनाओं को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से जापान और फिनलैंड के प्रतिनिधिमंडलों ने मुलाकात की। दोनों देशों के प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री और प्रदेश सरकार के अधिकारियों के साथ यूपी में निवेश की संभावनाओं पर पर विस्तार से चर्चा की। इस दौरान फ़िनलैंड ने इलेक्ट्रिक गाड़ियों, अल्टरनेटिव फ्यूल के क्षेत्र में निवेश की इच्छा जताई। वहीं जापान के भी प्रदेश में दस हजार करोड़ रुपये निवेश करने की इच्छा जताई।

फिनलैंड के प्रतिनिधिमंडल में पर्यावरण, आवास एवं ऊर्जा मंत्री किम्मो पिलिक कीनन उद्यमियों के प्रतिनिधिमंडल के साथ पहुंचे थे। फ़िनलैंड ने इलेक्ट्रिक गाड़ियों,अल्टरनेटिव फ्यूल, गैर परम्परगत ऊर्जा निवेश की इच्छा जताई है। यूपी सरकार जापानी निवेशकों के लिए एक विशेष स्पेशल इंवेस्टमेंट जोन बनाएगी, इसमें सिर्फ जापानी कंपनियों को ही कंपनी लगाने की इजाजत होगी। इसमें कंपनियों के लिए जापान की तरह ही माहौल भी डेवलप किया जाएगा। हालांकि जापान दिल्ली से सटे इलाके में इस जोन को विकसित करने के पक्ष में है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

GALIYARA