जीएसटी के कारण 5 दिन बंद रह सकती हैं कंपनियां

जीएसटी

जीएसटी के कारण 5 दिन बंद रह सकती हैं कंपनियां.एक जुलाई से जीएसटी (गुड्स एंड सर्विस टैक्स) कानून लागू हो जाएगा, नई कर प्रणाली के लिए उद्योग जगत तैयार नहीं है। कई कंपनियों ने सिस्टम अपग्रेड करने के लिए 30 जून से 4 जुलाई तक उत्पादन कार्य बंद रखने का फैसला लिया है।

यह भी पढ़े:-जेल में दत्तक पुत्र से मिले मुलायम सिंह यादव

कई बड़ी कंपनियों में काम बंद करने के बजाय उत्पादन कम रखने पर जोर दिया जा रहा है। काम बंद करने वाली कंपनियो में ऑटो पा‌र्ट्स निर्माता कंपनियां व कई आइटी/बीपीओ इंडस्ट्री भी शामिल हैं। वहीं खरीद-बिक्री से जुड़ी कंपनियों में बिलिंग व्यवस्था बंद रहेगी।

जीएसटी लागू करने के लिए एक मोटे अनुमान के मुताबिक करीब बीस फीसद कंपनियों ने तैयारी पूरी कर ली है, जबकि बाकी में अभी भी तैयारियां चल रही हैं। कई कंपनियो में अभी नई बिलिंग प्रणाली को लेकर सॉफ्टवेयर तैयार नहीं है। कंपनी प्रबंधन इसके लिए विशेषज्ञो की सेवा ले रहे हैं।

गुरुग्राम में 3200 इंजीनियरिंग/ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री हैं। इसके अलावा 500 से अधिक छोटी-बड़ी आइटी/बीपीओ इंडस्ट्री हैं। कंपनियो में उत्पादन और खरीद-बिक्री बंद रखने से चार से पांच दिन में करीब एक हजार करोड़ रुपये का टर्नओवर प्रभावित होने का अनुमान है। हालांकि, कंपनी प्रबंधन अगले अवकाश के दिनों में अतिरिक्त उत्पादन कर इसकी भरपाई करने का दावा कर रहे हैं।

 

जीएसटी लागू करने के लिए बार-बार दिशा-निर्देश जारी हो रहे हैं, जिसके चलते उद्यमी दुविधा में हैं। कंपनियों को सबसे बड़ी समस्या सॉफ्टवेयर अपडेट करने में आ रही है। जीएसटी को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं होने से कंपनियां नई टैक्स प्रणाली के अनुसार सॉफ्टवेयर तैयार नहीं कर पा रही हैं।

एनसीआर चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के अध्यक्ष एचपी यादव का कहना है कि जीएसटी लागू करने को लेकर निजी क्षेत्र तो दूर, सरकारी पक्ष भी स्पष्ट नहीं है। जीएसटी को लेकर अपग्रेड होने में कंपनियों को एक साल तक लग सकता है। हालांकि, सरकार ने पहले तीन महीने तक गलतियां माफ करने की घोषणा की है, इस कारण कंपनियों को थोड़ी राहत रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

GALIYARA