ट्रैफिक नियम तोड़ा तो मिला फूलों का हार

ट्रैफिक नियम

ट्रैफिक नियम तोड़ा तो मिला फूलों का हार. ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों को एहसास दिलाने के लिए पुलिस ने ने चालान काटने के बजाय फूल-माला पहनाकर स्वागत किया. ताकि इससे लोगों को सबक मिल सके। क्योंकि अकसर चालान काटने के बाद भी लोग नियमों का पालन नहीं करते हैं।

यह भी पढ़ें:-लखनऊ। एक्शन में योगी, नौकरशाहों के हाथ पांव फूले

मुरादाबाद जिले में लगातार सड़क हादसे बढ़ रहे हैं। कहने के लिए तो कई ट्रैफिक नियम हैं लेकिन पालन करने वाले बहुत कम है। कई लोग तो नियमों को तोड़ने में अपनी शान समझते हैं। लिहाजा जिले के कप्तान मनोज तिवारी ने जिले में बढ़ रहे सड़क हादसों पर लगाम लगाने और लापरवाह वाहन चालकों को जागरूक करने के लिए नए तरीको को इजाद किया। तिवारी इससे पहले कई जिलों में कप्तान रहते हुए बेहतरीन काम कर चुके हैं। जिसे जनता के बीच काफी प्रशंसा मिली है।

यह भी पढ़ें:-कैलाश मानसरोवर का पहला दल पहुंचा काठगोदाम

एसएसपी मनोज तिवारी के निर्देश पर एसपी ट्रैफिक कालू सिंह के नेतृत्व में सोमवार को यातायात जागरूकता अभियान चलाया गया। इस दौरान दोपहिया वाहन चलाते समय हेल्मेट न पहनने  वाले वाहन चालकों को रोक कर फूलों की माला पहनाई और फिर उसे बिना हेल्मेट के होने वाली सड़क दुर्घटनाओं के बारे में जानकारी दी।

वाहन चालकों को इस बात की शपथ दिलाई गयी की वह भविष्य में ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन नहीं करेंगे और दोपहिया वाहन चलाते समय हेल्मेट और फोर व्हीलर चालक सीट बेल्ट का इस्तेमाल जरूर करेंगे। शपथ दिलाने के बाद के बाद पकड़े गए सभी वाहन चालकों को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया। इस बारे में में जिले के एसपी ट्रैफिक का कहना है। यह यातायात जागरूकता अभियान है। यातायात पुलिस द्वारा उठाए गए इस कदम से लोगों में जागरूकता आएगी और लोग हेल्मेट और सीट बेल्ट का भी ध्यान रखेंगे।

तिवारी पहले भी कई जिलों में पुलिस कप्तान रह चुके हैं औ सराहनीय काम कर चुके हैं। औरेया और झांसी और सहारनपुर जिले में रहते हुए उन्होंने थानों पकड़े गए वाहनों को उनके मालिकों तक पहुंचाया। असल में कई वाहन चोरों द्वारा चोरी कर लिए जाते हैं या फिर लूट लिए जाते हैं। बाद में जिन्हें पुलिस द्वारा पकड़ा जाता है वह थानों में जमा हो जाते हैं। इसके लिए उन्होंने जब्त वाहनों की सूची तैयार की और आरटीओ के जरिए उनके मालिकों के पते की जानकारी लेकर उन्हें यह वाहन सुपुर्द किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

GALIYARA