यूपी के नए डीजीपी बुधवार को लेंगे चार्ज, बनाएंगे अपनी अलग टीम

यूपी के नए डीजीपी बुधवार को लेंगे चार्ज, बनाएंगे अपनी अलग टीम.उत्तर प्रदेश पुलिस के महानिदेशक ओम प्रकाश सिंह प्रदेश में हर क्षेत्र के अपराध से पूरी तरह वाकिफ हैं। उनका कहना है कि हर क्षेत्र में अपराध का तरीका अलग होता है। उनका कहना है कि अपराध को नियंत्रित करना उनका पहला लक्ष्य होगा। नियमों के तहत काम करने वाले सिंह ने अपने कैरियर में कई मुकाम हासिल किए हैं। साथ ही वह बेहतरीन गायक भी हैं। बुधवार को उनके चार्ज लेने के बाद उम्मीद की जा रही है कि आने वाले दिनों में पुलिस विभाग  में बड़े बदलाव होंगे।

मुरादाबाद में डीआइजी रहे प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह हर क्षेत्र ने बताया कि उस तरीके के आधार पर ही अपराधियों का काम तमाम करने के लिए फार्मूला तैयार किया जाएगा। प्रदेश में बढ़ते अपराध के ग्राफ को कम करना उनका उद्देश्य है। पदभार ग्रहण करने से पहले एक समाचार पत्र को फोन पर दिए गए संक्षिप्त साक्षात्कार में उन्होंने बताया कि प्लानिंग में पुलिसकर्मियों की समस्याओं को भी वरीयता दी जाएगी। पुलिसकर्मियों की कमी को पूरा करने को पहले से पूरा मसौदा तैयार किया है। पहली ही खेप में पांच हजार दारोगा की सीधी भर्ती होगी, जबकि आठ हजार हेड कांस्टेबल दारोगा बनेंगे। इसके साथ ही प्रदेश में 2300 दारोगा प्रमोट कर उनको इंस्पेक्टर बनाया जाएगा।

बिहार के गया में दो जनवरी 1960 को जन्मे ओपी सिंह राजनीतिक विज्ञान से परास्नातक करने के बाद 1983 में आइपीएस के लिए चुने गए थे। 1985 में पहली तैनाती पीटीसी मुरादाबाद में एएसपी अंडर ट्रेनी के रूप में हुई थी। 1993 में वीरता पदक मिला था। 1999 और 2007 में राष्ट्रपति की ओर से पुलिस पदक से सम्मानित किए जा चुका है। मुरादाबाद में ओपी सिंह एएसपी के बाद एसएसपी तथा डीआइजी भी रह चुके हैं। उनका कहना है अभी पुलिस की समस्या व अपराध पर लगाम लगाना प्राथमिकता में है।

(साभार-दैनिक जागरण)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

GALIYARA