भूमाफियाओं के खिलाफ योगी सरकार चलाएगी महाअभियान.

उत्तर प्रदेश सरकार

भूमाफियाओं के खिलाफ योगी सरकार चलाएगी महाअभियान. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के दौरान भू माफिया और जमीनों पर कब्जों का मुद्दा खूब चर्चा  में रहा था। अखिलेश सरकार के दौर में जवाहर बाग की घटना शायद ही कोई भूला हो तो मायावती के दौर में आधा दर्जन से ज्यादा मंत्रिओं पर जमीन कब्जे आरोप लगे। हालात ये हैं कि राज्य के शहर हो या गांव सभी जगह भूमाफियाओं ने जमीन पर कब्जा किया है। लिहाजा योगी सरकार अब इन माफियाओं के खिलाफ बड़ा अभियान चलाकर जमीन से कब्जा मुक्त कराएगी।

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार बनी तो पहले 100 दिनों में एंटी भू-माफिया पोर्टल और टास्क फ़ोर्स का गठन कर शिकायतों और उनके निस्तारण पर फोकस शुरू हुआ। लेकिन उसके वह अंजाम नहीं आए, जिसकी सरकार के उम्मीद की थी क्योंकि प्रशासन इन माफियाओं के सामने नतमस्तक था और अभी   6 महीने बाद भी सरकार के सामने लंबित मामले बड़ी चुनौती बने हुए हैं। फिलहाल योगी सरकार समूचे सूबे में दीपावली के बाद भू-माफियाओं के खिलाफ महाअभियान की तैयारी में है। पूर्ववर्ती  अखिलेश सरकार हो या मायावती की सरकार, विधायक और सांसदों तक पर जमीनों पर कब्जे के गंभीर आरोप लगे।

योगी सरकार ने एंटी भूमाफिया पोर्टल का शुभारंभ 24 जून को किया गया। पोर्टल पर जनसामान्य द्वारा ग्रामसभा निहित भूमि/सरकारी भूमि पर अवैध कब्जे की सूचना दर्ज कराई जा सकती है। शासन ने 4 स्तरीय भू-माफिया टास्क फोर्स का गठन किया है। मुख्यसचिव की अध्यक्षता में राज्यस्तरीय, मंडलायुक्त की अध्यक्षता में मंडल स्तरीय, जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिलास्तरीय और उपजिलाधिकारी की अध्यक्षता में तहसील स्तरीय टॉस्क फ़ोर्स बनाई गई है।

सरकारी आंकड़े बताते हैं कि एंटी भू-माफिया पोर्टल में अब तक 26905 शिकायतें मिली हैं. जिनमें से 13843 के निस्तारण का सरकार दावा कर रही है। प्राप्त शिकायतों में 23795 राजस्व विभाग से जुड़ी हैं और बाकी अन्य विभागों से. राज्य सरकार ने 1852 मामलों में शिकायतें गलत पायी हैं। जबकि 468 शिकायतों में न्यायलय में वाद दर्ज कराया है। अब योगी सरकार दीपावली बाद भू-माफिया के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की तैयारी कर रही है। जिलों में भू-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

GALIYARA