मुलायम के करीबी सपा एमएलसी अशोक बाजपेई ने दिया इस्तीफा

मुलायम के करीबी सपा एमएलसी अशोक बाजपेई ने दिया इस्तीफा. समाजवादी पार्टी को बुधवार को उस समय एक और तगड़ा झटका लगा है।  जब पार्टी के वरिष्ठ नेता और मुलायम सिंह यादव के बेहद करीबियों में शुमार डॉ अशोक बाजपेई ने विधान परिषद की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। ऐसा माना जा रहा है कि बाजपेई का दामन थाम सकते हैं।
इस्तीफा देने के बाद डॉ.अशोक बाजपेई ने कहा कि वह मुलायम सिंह यादव नेताजी की उपेक्षा से बहुत आहात थे। उनकी उपेक्षा की वजह से उन्होंने एमएलसी पद से इस्तीफा दिया है। सूत्रों के अनुसार डॉ अशोक बाजपेई जल्द ही बीजेपी ज्वाइन कर सकते हैं। बाजपेई मुलायम सिंह सरकार में कृषि मंत्री रह चुके हैं और लोकसभा चुनाव में सपा ने पहले उन्हें लखनऊ से प्रत्याशी बनाया था बाद में अखिलेश यादव ने उनका टिकट काटकर अपने करीब अभिषेक मिश्र को प्रत्याशी बनाया। सूत्रों का कहना है कि सपा के एक और एमएलसी रामसकल गुर्जर विधानपरिषद की सदस्यता से इस्तीफा दे सकते हैं।
डॉ अशोक पहले समाजवादी पार्टी के तीन एमएलसी पहले ही सपा का दामन छोड़ चुके हैं। इनमें बुक्कल नवाब, यशवंत सिंह और डॉ. सरोजनी अग्रवाल के नाम प्रमुख हैं। वैसे डॉ अशोक बाजपेई के इस्तीफे को समाजवादी कुनबे में छिड़ी लड़ाई से जोड़कर देखा जा रहा है। मंगलवार को ही लोहिया ट्रस्ट की बैठक हुई। इस ट्रस्ट के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव हैं। बैठक में न तो अखिलेश यादव उपस्थित हुए न ही रामगोपाल यादव, इसके बाद बैठक में टीम अखिलेश के 4 अहम सदस्यों को ट्रस्ट से बेदखल कर दिया गया। इनमें ऊषा वर्मा, रामगोविंद चौधरी, अहमद हसन और आलोक शाक्य की सदस्यता रद्द कर दी गई। वहीं 4 नए सदस्यों की लोहिया ट्रस्ट में इंट्री हुई, जिनमें समाजवादी बैद्धिक सभा के दीपक मिश्रा, इटावा के रामसेवक, रामनरेश और हरदोई के राजेश यादव ट्रस्ट के सदस्य बनाए गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

GALIYARA