रामनाथ कोविंद को उत्तराखंड में मिला निर्दलीय विधायकों का समर्थन

रामनाथ कोविंद

उत्तराखंड में रामनाथ कोविंद को मिला निर्दलीय विधायकों का समर्थन.राष्ट्रपति पद के लिए रामनाथ कोविंद को राज्य में 72 फीसद से ज्यादा मत मिलना तय माना जा रहा है। उत्तराखंड दौरे में दो निर्दलीय विधायकों का समर्थन जुटाने में भी भाजपा को कामयाबी मिली है।

यह भी पढ़े:-योगी कहा ने यूपी से खत्म किया है परिवारवाद और भ्रष्टाचार

राष्ट्रपति चुनाव में उत्तराखंड की नई भाजपा सरकार अहम भूमिका निभाने जा रही है। 70 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा के 57 विधायक हैं। वहीं पांच लोकसभा सांसद भी भाजपा के ही हैं। दो निर्दलीय विधायक प्रीतम पंवार और राम सिंह कैड़ा राष्ट्रपति पद के लिए एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को समर्थन देने का एलान कर चुके हैं।

राज्य में विधानसभा के एक सदस्य के पास 64 और सांसद के पास 708 मत हैं। दो निर्दलीय विधायकों का साथ मिलने के बाद कुल 59 विधायकों के 3776 मत अब एनडीए के पक्ष में माने जा रहे हैं। पांच लोकसभा सांसदों के 3540 मत भी भाजपा के पास हैं।

ऐसे में राज्य में कुल 10144 मतों में से 7316 मत एनडीए प्रत्याशी को मिलना तकरीबन तय है। वहीं कांग्रेस के पास राज्य में 11 विधायकों और तीन राज्यसभा सांसदों को मिलाकर 2828 मतों का आंकड़ा है। कांग्रेस के सभी विधायक यूपीए की राष्ट्रपति पद की प्रत्याशी मीरा कुमार के प्रस्तावक बने हैं।

हालांकि, राष्ट्रपति चुनाव के लिए पार्टी व्हिप जारी करने की व्यवस्था नहीं है। विधानसभा और लोकसभा सदस्यों के आनुपातिक प्रतिनिधित्व के आधार पर मतों की गणना की व्यवस्था है। ऐसे में हर दल के सामने मतों के बिखराव को रोकने की चुनौती भी है। राष्ट्रपति चुनाव के लिए 1971 की जनगणना को ही आधार माना जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

GALIYARA