राष्ट्रपति चुनाव के लिए भाजपा ने किया तीन सदस्यीय दल का गठन

राजनाथ सिंह

राष्ट्रपति चुनाव के लिए भाजपा ने किया तीन सदस्यीय दल का गठन. तीन सदस्यीय दल अपने सहयोगी दलों के बीच आम राय बनाकर राष्ट्रपति के लिए नाम तय कर आलाकमान को देगा। इस समिति में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री अरुण जेटली और सूचना एवं प्रसारण मंत्री एम.वेंकैया नायडू इस समिति के सदस्य हैं। राष्ट्रपति चुनाव 17 जुलाई को होंगे। हालांकि पहले राष्ट्रपति के लिए लाल कृष्ण आडवाणी का नाम चल रहा था लेकिन अयोध्या प्रकरण में नाम आने के बाद इसकी संभावनाएं कम है। जबकि शिवसेना की तरफ से आरआरएस प्रमुख मोहन भागवत का नाम आगे रखा है। लेकिन इसे स्वयं भागवत ने ही खारिज कर दिया है।

यह भी पढ़े़-कैलाश मानसरोवर का पहला दल पहुंचा काठगोदाम

मौजूदा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है। इस चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने की अंतिम तारीख 28 जून है। राजग की तरफ से किसी भी नाम पर सहमति नहीं बनी है और इसी तरह यूपीए की तरफ से भी किसी का नाम तय नहीं है। पिछले दिनों यूपीए के घटक दलों ने इस सिलसिले में बैठक की थी। बीजेपी अध्यक्ष शाह ने आज एक पत्र जारी कहा है कि पार्टी के इन तीनों वरिष्ठ नेताओं को विभिन्न राजनीतिक दलों से चर्चा कर राष्ट्रपति चुनाव के लिए सर्वसम्मति बनाने का काम सौंपा है।

यह भी पढ़े़-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मिलने योगी दिल्ली पहुंचे

राष्ट्रपति पद के लिए एनडीए की तरफ से कई नाम चर्चा में है। सत्ताधारी दल के पास टीआरएस और जगनरेड्डी की पार्टी का समर्थन है। वहीं विपक्षी दलों ने भी राष्ट्र्रपति चुनाव को लेकर कमर कस ली है। कांग्रेस अध्यक्ष ने राष्ट्रपति चुनाव पर रणनीति बनाने के लिए 14 जून को सभी विपक्षी दलों की बैठक बुलाई है। ज्ञातव्य है कि सोनिया गांधी ने चुनाव पर चर्चा के मद्देनजर इस महीने की शुरुआत में विपक्षी पार्टियों के दस सदस्यीय उपसमूह का गठन किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

GALIYARA