योगी ने विजिलेंस से मांगी दागी अफसरों की रिपोर्ट.

बिल गेट्स

योगी ने विजिलेंस से मांगी दागी अफसरों की रिपोर्ट. प्रदेश सरकार ने विजिलेंस विभाग से ऐसे सभी प्रमुख अफसरों की सूची मांगी है. जिनकी भ्रष्टाचार या किसी दूसरे गंभीर मामले में शिकायत हुई है। समझा जा रहा है कि राज्य सरकार आने वाले दिनों में प्रमुख पदों पर तैनाती में इस सूची में शामिल अफसरों को महत्व वाले पदों पर तैनाती देने से बचेगी। विजिलेंस विभाग ने ऐसे लगभग 100  अफसरों की सूची तैयार की है, जिनके खिलाफ गंभीर शिकायतें हैं। इन अफसरों में आईएएस, आईपीएस, पीसीएस व पीपीएस शामिल हैं। इसके साथ ही राज्य के अधीन आने वाले विभागों में तैनात आला अफसर है।

जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के उन दागी अफसरों की सूची मांगी है।  जिनके खिलाफ गंभीर मामलों में विजिलेंस में शिकायत पर जांच चल रही है। इसमें से कुछ अफसरों पर जहां भ्रष्टाचार के गंभीर मामले हैं, वहीं कई पर खनन माफिया से मिले होने, आय से अधिक सम्पत्ति, माफियाओं से संबंध, अफसरों के साथ गलत आचरण व हिंसा के मामले शामिल हैं। इन अफसरों में तमाम के खिलाफ शिकायत सही पायी गयी हैं, जबकि कुछ के खिलाफ जांच चल रही है। ऐसे अफसरों में 54 आईएएस, 22 आईपीएस, 16 पीसीएस और 6  पीपीएस अफसर शामिल हैं।

आरोप है कि कई अफसरों पर विजिलेंस जांच में शिकायत की पुष्टि के बाद भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। इन सभी अफसरों ने अपनी पहुंच का उपयोग करते हुए पूरी जांच प्रक्रिया को ही दबवा रखी है। यही हाल लगभग दूसरे विभागों इंजीनियरिंग और मेडिकल में तैनात अफसरों के भी हैं। लिहाजा अब योगी सरकार इन अफसरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने जा रही है। हालांकि सरकार ने स्क्रीनिंग के जरिए विभागों में अरसे से तैनात दागी कर्मचारियों को जबरन सेवानिवृत्ति देना तो शुरू कर दिया है। लेकिन अफसरों के मामले में सरकार की तरफ से पहल नहीं नहीं हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

GALIYARA