BJP's trouble in West Bengal: सबसे पहले बागी हुए थे और अब होगी सबसे पहले घर वापसी!

BJP's trouble in West Bengal: एक न्यूज चैनल से बातचीत में सौगत रॉय ने कहा, बहुत से लोग हैं और अभिषेक बनर्जी के संपर्क में हैं और वापस लौटना चाहते हैं। मुझे लगता है कि उन्होंने जरूरत की घड़ी में पार्टी के साथ विश्वासघात किया है।

BJP's trouble in West Bengal: सबसे पहले बागी हुए थे और अब होगी सबसे पहले घर वापसी!

BJP's trouble in West Bengal: पश्चिम बंगाल (West Bengal) में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायकों की तृणमूल कांग्रेस (TMC) में वापसी का मुद्दा गर्मा गया है। इस बीच मुकुल रॉय को लेकर चर्चा (Talking about Mukul Roy) सबसे ज्यादा है। टीएमसी और बीजेपी दोनों ही इस मुद्दे पर कुछ भी कहने से परहेज कर रही हैं। साथ ही राय ने अभी तक इस मामले पर खुलकर प्रतिक्रिया (reaction) नहीं दी है। हालांकि बुधवार शाम टीएमसी सांसद सौगत रॉय ने बयान में बदलाव के संकेत दिए हैं।

एक न्यूज चैनल से बातचीत में सौगत रॉय ने कहा, बहुत से लोग हैं और अभिषेक बनर्जी के संपर्क में हैं और वापस लौटना (come back) चाहते हैं। मुझे लगता है कि उन्होंने जरूरत की घड़ी में पार्टी के साथ विश्वासघात (Betrayal) किया है। टीएमसी सांसद ने साफ कर दिया है कि ममता अंतिम फैसला लेंगी, लेकिन मुझे लगता है कि दलबदलुओं (defectors) को दो हिस्सों में बांटा जाएगा सॉफ्टलाइनर और हार्डलाइनर।

उन्होंने बताया कि सॉफ्टलाइनर्स (softliners) में ऐसे नेता शामिल होंगे, जिन्होंने कभी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Chief Minister Mamata Banerjee) का अपमान नहीं किया। जबकि, कट्टरपंथियों (fanatics) ने उन्हें सार्वजनिक रूप से अपमानित किया है। राय ने कहा, पार्टी बदलने के बाद शुभेंदु अधिकारी ने ममता बनर्जी के बारे में बहुत गलत कहा। मुकुल रॉय ने खुलकर मुख्यमंत्री के लिए कुछ भी गलत नहीं किया।

मुकुल रॉय टीएमसी छोडऩे वाले पहले नेता थे

कभी ममता बनर्जी के करीबी रहे राय पार्टी छोडऩे वाले पहले नेता थे। उन्होंने 2017 में साइड स्विच किया था । रिपोर्ट के मुताबिक, इसके बाद के वर्षों में उन्होंने टीएमसी के कई विधायकों और नेताओं (Many MLAs and leaders of TMC) को वफादारी बदलने के लिए राजी किया । बताया जा रहा है कि करीब 35 नेता सत्ताधारी दल के साथ वापस आना चाहते हैं।

मुकुल रॉय की टीएमसी में वापसी को लेकर अटकलें तब शुरू हो गई थीं जब अभिषेक बनर्जी को अस्पताल में भर्ती रॉय की पत्नी की हालत का पता चला था। रिपोर्ट के मुताबिक, कहा जा रहा है कि अगले ही दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने खुद रॉय से फोन पर बातचीत की थी। भाजपा नेताओं का कहना है कि राय की पत्नी के जल्द स्वस्थ होने के लिए यह आह्वान किया गया था। जबकि, टीएमसी नेताओं का मानना है कि भाजपा की यह कोशिश है कि नेताओं को साथ रखा जाए।

ALSO READ: Congress got Big Setback: यूपी में कमल खिलाने में 'किंगमेकर' बनेंगे या फिर 'वोट कटवा' बन कर रहे जाएंगे जितिन?

भाजपा ने बुलाई बैठक

हाल ही में भाजपा (BJP) के कई नेताओं को दिल्ली बुलाया गया था। इन नेताओं में अधिकारी का नाम भी शामिल था। मंगलवार को अधिकारी ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (BJP National President Jagat Prakash Nadda and Union Home Minister Amit Shah) से मुलाकात की थी। बाद में उन्होंने पीएम मोदी से भी मुलाकात की। भाजपा की समीक्षा बैठक में मुकुल राय की अनुपस्थिति ने अधिकारी के साथ दरार की खबरों को मजबूत किया है।