बिहार पंचायत चुनाव: 10 चरणों में होंगे चुनाव और पहली बार EVM से पड़ेंगे वोट

बिहार सरकार की कैबिनेट बैठक में निर्णय लिया गया कि इस बार पंचायत चुनाव में ईवीएम मशीन का उपयोग किया जाएगा।

बिहार पंचायत चुनाव: 10 चरणों में होंगे चुनाव और पहली बार EVM से पड़ेंगे वोट

पटना। बिहार में पंचायत चुनाव के लिए नीतीश सरकार ने मंजूरी दे दी है। राज्य में 10 चरणों में पंचायत चुनाव होंगे। खास बात यह है कि बिहार में पहली बार पंचायत चुनाव में ईवीएम का इस्तेमाल किया जाएगा और इसके लिए राज्य सरकार ने 122 करोड़ के खर्च को भी मंजूरी दी है।

बिहार सरकार की कैबिनेट बैठक में निर्णय लिया गया कि इस बार पंचायत चुनाव में ईवीएम मशीन का उपयोग किया जाएगा। इसके साथ, इस चुनाव में लगभग 122 करोड़ रुपये का व्यय होगा। इसके लिए राज्य सरकार ने अनुमति दे दी है। जानकारी के मुताबिक राज्य सरकार पंचायत चुनाव के लिए 90 हजार EVM खरीदेगी बता दें कि बिहार में होने वाले पंचायत चुनाव में वार्ड सदस्य, पंच, सरपंच, पंचायत स्तर पर मुखिया, पंचायत समिति सदस्य और जिला परिषद सदस्य चुने जाएंगे।

कैबिनेट की बैठक में, यह निर्णय लिया गया है कि पंचायत चुनावों में पुरानी आरक्षण प्रणाली को लागू किया जाएगा, इसका मतलब है कि पिछले पंचायत चुनावों में जो सीटें आरक्षित थीं, वे इस बार भी आरक्षित रहेंगी। बिहार में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए चुनाव आयोग के दिशानिर्देशों के अनुसार, मतदान सुबह 7 बजे से शाम 5 बजे तक होगा। सुबह 8 बजे से वोटों की गिनती होगी। हालांकि, 10 चरणों में होने वाले पंचायत चुनाव की तारीखों की घोषणा अभी नहीं की गई है।

सियासी दलों की तैयारी

राज्य में होने वाले सियासी दलों ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। वहीं राज्य में आरक्षण की पुरानी व्यवस्था के रहने से राज्य के प्रत्याशियों को राहत मिली है। जिसके कारण वह अपने क्षेत्र में अभी से चुनाव के लिए प्रचार कर सकते हैं।