Bureaucracy:जानें कौन हैं आईएएस सुधीर कुमार जो बिहार में सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ एफआईआर कराने पहुंचे थाने

Bureaucracy:राज्य में आज उस वक्त हलचल मच गई जब आईएएस अफसर सुधीर कुमार सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने थाने पहुंचे। लेकिन किसी ने उनकी रिपोर्ट दर्ज नहीं की।

Bureaucracy:जानें कौन हैं आईएएस सुधीर कुमार जो बिहार में सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ एफआईआर कराने पहुंचे थाने

Bureaucracy:बिहार में एक आईएएस और अपर मुख्य सचिव स्तर का अफसर राज्य के सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ एफआईआर कराना चाहता है। लेकिन कोई एफआईआर नहीं कर रहा है। जिसको लेकर राज्य में सियासत गर्माई हुई है। राज्य में आज उस वक्त हलचल मच गई जब आईएएस अफसर सुधीर कुमार सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने थाने पहुंचे। लेकिन किसी ने उनकी रिपोर्ट दर्ज नहीं की।

आईएएस अफसर सुधीर कुमार बीपीएससी पेपर लीक मामले में 2017 में जेल जा चुके हैं और अब वह राज्य के सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने पटना के एससीएसटी थाने पहुंचे थे। फिलहाल अभी तक किसी के समझ में नहीं आया है कि सुधीर कुमार आखिर सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराना चाहते हैं। वह आज चार घंटे तक थाने में बैठे रहे, लेकिन थाने में किसी ने उनकी एफआईआर दर्ज नहीं की। यही नहीं एसएचओ थाने छोड़कर चार घंटे तक गायब रहे।

जबकि वहां पर मौजूद अफसर ने कहा कि एफआईआर की कॉपी अंग्रेजी में दी गई थी और उसे अंग्रेजी समझने में दिक्कत आ रही थी। जिसके कारण उनकी रिपोर्ट दर्ज नहीं हो सकी है। इससे पहले भी सुधीर कुमार सीएम के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के लिए मार्च में शास्त्रीनगर थाने भी पहुंचे थे, लेकिन रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई थी। वहीं आज वह नीतीश कुमार के अलावा वह कई अन्य आईएएस अधिकारियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने जा रहे हैं। 

किन लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराना चाहते हैं सुधीर कुमार

वहीं आईएएस अफसर सुधीर कुमार ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि उन्होंने रिपोर्ट के लिए आवेदन किया है और इसमें उन्होंने राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, डीआईजी मनु महाराज समेत कई लोगों के नाम शामिल किए हैं। हालांकि कुमार के आवेदन के बाद थाने की भी हड़कंप मच गया। वहीं कुमार ने कहा कि जब तक प्राथमिकी दर्ज नहीं होती। तब तक वह कुछ नहीं बता सकेंगे।

ALSO READ:-Corona havoc on Bureaucracy: बिहार के चीफ सेक्रेटरी अरुण कुमार सिंह की कोरोना से मौत

जानें कौन हैं सुधीर कुमार

आईएएस अफसर सुधीर कुमार बिहार कर्मचारी चयन आयोग के पूर्व अध्यक्ष रह चुके हैं और उन पर भ्रष्टार के मामले हैं और 2014 में उनके कार्यकाल में परीक्षा का पेपर लीक हुआ था, जिसमें उन्हें दोषी करार दिया गया था। इसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था और वह फिलहाल जमानत पर हैं। फिलहाल वह चार साल बाद राज्य के सीएम के खिलाफ एससी/एसटी थाने में रिपोर्ट कराने पहुंचे हैं। सुधीर कुमार को लालू प्रसाद यादव का करीबी माना जाता है। सुधीर कुमार राज्य में गृह विभाग के प्रधान सचिव भी रह चुके हैं।