कैप्टन की पार्टी से सिद्धू गायब लेकिन धुरविरोधी बाजवा ने पहुंचकर सबको चौंकाया, सियासी चर्चा शुरू

नवजोत सिंह सिद्धू कैप्टन अमरिंदर सिंह की लंच पार्टी में नहीं दिखे। वहीं, कैप्टन के धुर विरोधी माने जाने वाले प्रताप सिंह बाजवा ने पार्टी में शामिल होकर सभी को चौंका दिया।

कैप्टन की पार्टी से सिद्धू गायब लेकिन धुरविरोधी बाजवा ने पहुंचकर सबको चौंकाया, सियासी चर्चा शुरू

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू के बीच बिगड़े संबंध सुधरने के संकेत नहीं दे रहे हैं। असल में कैप्टन की पोती सहरिंदर कौर की प्री-वेडिंग लंच पार्टी में पंजाब सरकार के सभी बड़े मंत्री नजर आए, जबकि सिद्धू इस दौरान नदारद थे। जबकि कैप्टन के प्रबल विरोधी माने जाने वाले राज्यसभा सांसद प्रताप सिंह बाजवा पार्टी में शामिल हुए तो पंजाब में राजनीतिक चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया। क्योंकि बाजवा और कैप्टन के बीच छत्तीस का आंकड़ा है।


दरअसल, गुरुवार को पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपनी पोती सेहिन्दर कौर की शादी से पहले लंच पार्टी का आयोजन किया था। पार्टी में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, पंजाब सरकार के कैबिनेट मंत्री और अन्य नेता भी शामिल थे। इस दौरान सभी की निगाहें नवजोत सिंह सिद्धू पर थीं कि वह पार्टी में शामिल होते हैं या नहीं? हालांकि, इस दौरान सिद्धू सामने नहीं आए। हालांकि, पार्टी के राज्यसभा सांसद प्रताप सिंह बाजवा, जिन्हें कैप्टन का धुर विरोधी माना जाता है, वह पार्टी में पहुंचे और उन्होंने सबको चौंका दिया।

माना जा रहा है कि बाजवा अगले साल राज्य में होने वाले विधानसभा चुनावों के मद्देनजर कैप्टन के साथ अपने संबंधों को बेहतर बनाने की कोशिश कर रहे हैं। दोनों के बीच का सियासी दुश्मनी पंजाब के राजनीतिक गलियारों में काफी प्रसिद्ध है। कैप्टन की पार्टी में सिद्धू का ना आना काफी सवाल खड़े कर रहा है। वहीं पिछले दिनों सीएम की लंच पार्टी में सिद्धू ने शिरकत की थी। इसके बाद, यह माना गया कि दोनों के बीच रिश्तों में बर्फ पिघलने लगी थी, लेकिन गुरुवार को सामने आए मंजर ने फिर से कई तरह के कयासों को जन्म दे दिया है।

हालांकि, सिद्धू के कैप्टन के पार्टी में शामिल नहीं होने का कारण अभी तक कोई बयान सामने नहीं आया है। कैप्टन की पार्टी में बाजवा के अलावा, मनप्रीत सिंह बादल, ब्रह्म मोहिंद्रा और पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत सहित कई कैबिनेट मंत्रियों ने पार्टी में भाग लिया। गौरतलब है कि कैप्टन की पोती सहरिंदर कौर की शादी 28 फरवरी को दिल्ली के बिजनेसमैन देविन नारंग के बेटे आदित्य नारंग से होनी है। कौर शूटर रणिंदर सिंह की बेटी हैं।