Child Marriage in Bihar:बाल विवाह करने पहुंचा था अधेड़ दूल्हा, गांव वालों ने रोकी शादी और फिर हुई दूल्हे की खातिरदारी

Child Marriage in Bihar:दलालों के लालच में आए परिजनों ने नाबालिग लडक़ी को शादी की ड्रेस में सजाने के बाद अपने रिश्तेदारों के यहां ले कर चले गए। लेकिन इसी बीच ग्रामीणों को इस बारे में पता चला।

Child Marriage in Bihar:बाल विवाह करने पहुंचा था अधेड़ दूल्हा, गांव वालों ने रोकी शादी और फिर हुई दूल्हे की खातिरदारी
सांकेतिक फोटो

Child Marriage in Bihar:एक बारह साल की बच्ची (twelve year old girl) और पचास साल का दूल्हा। जी हां, बिहार के सीतामढ़ी में ऐसी ही एक बेमेल शादी (mismatched marriage) कराने की कवायद की जा रही थी। इसके लिए दूल्हा राजस्थान के अजमेर से सीतामढ़ी जिले के एक गांव में भी पहुंचा था। दलालों (brokers) ने सब कुछ तैयार कर लिया था। दलालों ने मासूम बच्ची (innocent baby) की शादी कराने के लिए तमाम इंतजाम भी किए थे, लेकिन इससे पहले ही दूल्हा नवविवाहिता को देख पाता, ग्रामीणों ने उसकी जमकर देखभाल की और अब वह पुलिस की हिरासत में है।

मामला नानपुर प्रखंड के बहेड़ा गांव का बताया जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नाबालिग लडक़ी की शादी गांव की रजिया खातून नाम की महिला दलाल और कृष्णनंदन नाम के पुरुष दलाल (A female broker named Razia Khatoon and a male broker named Krishnanandan) ने राजस्थान के अजमेर क्षेत्र के रहने वाले गोपाल राम नामक व्यक्ति से तय की थी। तय तारीख पर वह शादी के लिए राजस्थान से भी पहुंचे थे। बताया जा रहा है कि वह शहर के कृष्णा कॉम्प्लेक्स में रुका था।

ALSO READ: Girlfriend's High Voltage Drama: दूल्हे के घर पहुंची गर्लफ्रेंड, बोली मेरा नहीं तो किसी का नहीं, फिर कर दिया कांड

साथ ही इन दलालों के लालच में आई नाबालिग लडक़ी को उसके रिश्तेदारों ने शादी की ड्रेस में सजाकर मासूम बच्ची को उठा लिया। लेकिन इसी बीच ग्रामीणों को इस बारे में पता चला। नाराज लोगों (angry people) ने विवाह स्थल कृष्णा कॉम्प्लेक्स पर धावा बोल दिया। बताया जा रहा है कि पचास साल के दूल्हे को देखकर लोग चिढऩे लगे और वहां जमकर हाथ साफ किया। दूल्हे और उसके साथ आए दूसरे व्यक्ति को पकडक़र पुलिस के हवाले कर दिया गया।