Conflict in Congress Ends:पंजाब में सिद्धू बने पंजाब कांग्रेस के नए 'कैप्टन', अब क्या करेंगे कैप्टन अमरिंदर सिंह

Conflict in Congress Ends: कैप्टन अमरिंदर सिंह पंजाब के मुख्यमंत्री बने रहेंगे और नवजोत सिंह सिद्धू राज्य में कांग्रेस का नेतृत्व करेंगे। लेकिन कांग्रेस आलाकमान के बाद पंजाब में सिद्धू और कैप्टन के बीच विवाद बढ़ सकता है।

Conflict in Congress Ends:पंजाब में सिद्धू बने पंजाब कांग्रेस के नए 'कैप्टन', अब क्या करेंगे कैप्टन अमरिंदर सिंह
Conflict in Congress Ends:पंजाब में सिद्धू बने पंजाब कांग्रेस के नए 'कैप्टन', अब क्या करेंगे कैप्टन अमरिंदर सिंह

Conflict in Congress Ends:आखिरकार पंजाब कांग्रेस में कई महीनों से चला आ रहा है सियासी संकट खत्म हो गया है। क्योंकि कांग्रेस आलाकमान ने नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया है। वहीं राज्य में विधानसभा चुनाव को देखते हुए चार कार्यकारी अध्यक्ष भी बनाए गए हैं। इसके लिए केसी वेणुगोपाल ने एक पत्र जारी किया है। पत्र में लिखा है कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने यह फैसला लिया है।

वहीं इसे नवजोत सिंह सिद्धू  की बड़ी जीत बताया जा रहा है जबकि इसे कैप्टन अमरिंदर सिंह की बड़ी हार माना जा रहा है।  वहीं पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के नवनियुक्त अध्यक्ष बनने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने पटियाला में गुरुद्वारा श्री दुखनिवारन साहिब में पूजा-अर्चना की और लोगों की बधाई स्वीकार की।

कांग्रेस ने पंजाब में जिन लोगों को वर्किंग प्रेसिडेंट बनाया गया है, उनमें संगत सिंह, सुखविंदर सिंह डैनी, पवन गोयल और कुलजीत सिंह नागरा शामिल हैं। फिलहाल अब ये साफ हो गया है कि राज्य में कैप्टन अमरिंदर सिंह पंजाब के मुख्यमंत्री बने रहेंगे और नवजोत सिंह सिद्धू राज्य में कांग्रेस का नेतृत्व करेंगे। यानी कैप्टन के लाख चाहने के बाद भी सिद्धू ने पंजाब का आधा मैच जीत लिया है।

कांग्रेस की बढ़ सकती हैं मुश्किलें

फिलहाल मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पंजाब के मुख्यमंत्री बने रहेंगे और नवजोत सिंह सिद्धू राज्य में कांग्रेस  का नेतृत्व करेंगे। लेकिन कांग्रेस आलाकमान के बाद पंजाब में सिद्धू और कैप्टन के बीच विवाद बढ़ सकता है। क्योंकि आज दिनभर कैप्टन  सिद्धू की ताजपोशी को रोकने की कोशिशें करते रहे। लेकिन शाम को आलाकमान ने इसके लिए आदेश जारी कर दिया है। जबकि राज्य के हालात को देखते हुए मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने सोमवार को प्रदेश के जिला अध्यक्षों और विधायकों की बैठक बुलाई थी। वहीं सिद्धू की नियुक्ति कैप्टन की बड़ी हार मानी जा रही है। 

ALSO READ :Punjab Congress Political Crisis:सिद्धू को ताजपोशी से पहले कैप्टन से मिल सकते हैं राहुल गांधी, ताकि न हो कोई विवाद

पार्टी महासचिव ने जारी किए आदेश

वहीं कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल की ओर से नवजोत सिंह सिद्धू की ताजपोशी के आदेश जारी कर उनके नए प्रदेश अध्यक्ष बनाने की आदेश जारी कर दिए गए हैं। जबकि मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष अध्यक्ष सुनील जाखड़ को तारफी करते हुए उन्हें बधाई दी गई है।