Coronation of Tejashwi:तेजस्वी की ताजपोशी से पहले राजद में भी उठ रहे हैं बगावत के सुर, तेजस्वी बनेंगे कार्यकारी अध्यक्ष

Coronation of Tejashwi:बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) में चल रही सियासी उठापटक के बीच पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने पार्टी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को अलर्ट किया है।

Coronation of Tejashwi:तेजस्वी की ताजपोशी से पहले राजद में भी उठ रहे हैं बगावत के सुर, तेजस्वी बनेंगे कार्यकारी अध्यक्ष

Coronation of Tejashwi:बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल में सत्ता का हस्तांतरण होने की चर्चा जोरों पर है और कहा जा रहा है कि लालू के छोटे बेटे और राज्य में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव पार्टी के अध्यक्ष बन सकते हैं। लेकिन उससे पहले ही लालू यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) में सियासी उठापटक शुरू हो गई है। असल में तेजस्वी यादव को राजद की कमान सौंपने की चर्चा के बीच वरिष्ठ नेता और पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी बडा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि तेजस्वी पहले से ही हमारे नेता हैं। उनके नेतृत्व में विधानसभा चुनाव लड़ा गया।

कभी जनता दल यूनाइटेड के चाणक्य कहे जाने वाले शिवानंद तिवारी ने कहा कि अगर तेजस् वी यादव राष्ट्रीय अध्यक्ष बनते हैं तो उनका क्या होगा? राजद को संभालना पहाड़ का काम नहीं है। लेकिन अब इसकी कोई जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि आज भी तेजस्वी यादव नेता हैं। लेकिन वह कभी नहीं चाहेंगे कि उनके पिता जो पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं, उनसे यह पद लें। इसकी कोई जरूरत नहीं है और तेजस्वी ऐसा नहीं चाहेगा। असल तिवारी ने कहा कि लालू के रहते हुए तेजस्वी यादव को पार्टी की कमान नहीं सौंपी जानी चाहिए।

 लालू की तारीफ की शिवानंद तिवारी ने

राजद के वरिष्ठ नेताओं में शुमार शिवानंद तिवारी ने कहा कि पार्टी के स्थापना दिवस पर सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने अच्छा भाषण दिया था जबकि उनकी तबीयत खराब थी और उसके बावजूद उन्होंने अद्भुत भाषण दिया और वह राजनीतिक भाषण था। हमारी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद  ने जो अनुभव वह स्कूल और कॉलेजों में नहीं पढ़ाया जाता है। बेटे तेजस्वी को उनके अनुभव का लाभ मिल रहा है। शिवानंद तिवारी ने कहा कि मीडिया में यह अटकलें लगाई जा रही हैं कि तेजस्वी राष्ट्रीय अध्यक्ष बन रहे हैं। अब इसकी कोई जरूरत नहीं है ।

ALSO READ: RJD Damage Control Siwan:क्या सिवान में दरक रहा है आरजेडी का किला, मुलाकातों के दौर से तो कुछ ऐसा ही लग रहा है

 तेजस्वी बन सकते हैं वर्किंग प्रेसिडेंट

फिलहाल पार्टी में चर्चा है कि तेजस्वी यादव को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने से पहले उन्हें कार्यकारी अध्यक्ष बनाना चाहिए। क्योंकि ऐसा कर वह धीरे धीरे पार्टी पर अपनी मजबूत पकड़ बना सकेंगे और इसके लिए चरणबद्ध तरीके से यह काम किया जाना चाहिए। तेजस् वी को पहले कार्यकारी अध्यक्ष बनाया जा सकता है और उसके बाद 2022 में राष्ट्रीय अध्यक्ष की कमान दी जाएगी। वहीं अगर लालू प्रसाद यादव का स्वास्थ्य ठीक रहता है तो वह पटना पहुंचेंगे और इसकी घोषणा की जाएगी। माना जा रहा है कि लालू ने जगदानंद सिंह का इस्तीफा इसलिए स्थगित कर दिया क्योंकि वह चाहते हैं कि तेजस्वी को जगदानंद सिंह का पूरा समर्थन मिले।