Financial Tips: क्या आप भी खुलवाने जा रहे हैं डीमैट एकाउंट, लेकिन क्या जानते है आप इसकी बारीकियां

Financial Tips:शेयर बाजार में ट्रेडिंग के लिए डीमैट अकाउंट जरूरी है। डीमैट अकाउंट खोलते समय दलाली और ट्रांजेक्शन फीस समेत अन्य महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखना चाहिए।

Financial Tips: क्या आप भी खुलवाने जा रहे हैं डीमैट एकाउंट, लेकिन क्या जानते है आप इसकी बारीकियां

Financial Tips: डीमैट अकाउंट के बारे में तो आपने सुना होगा। लेकिन डीमैट अकाउंट के बारे में बहुत से लोगों को पूरी जानकारी नहीं होती है। दरअसल शेयर मार्केट में निवेश के लिए डीमैट अकाउंट खोला जाता है। शेयर बाजार में ट्रेडिंग बिना डीमैट अकाउंट के नहीं की जाती (Trading in share market is not done without demat accoun) है। आज हम आपको बता रहे हैं कि डीमैट अकाउंट खोलते समय किन बातों का ध्यान रखा जाए।

1-ब्रोकरेज और लेनदेन शुल्क

डीमैट खाता खोलने और दलाली शुल्क दलालों के बीच अलग-अलग (Demat account opening and brokerage charges vary between brokers) है। आजकल ज्यादातर लोग फ्री में डीमैट अकाउंट खोल रहे हैं। इक्विटी खरीदने और बेचने के लिए आपसे लेनदेन शुल्क लिया जा सकता है।

इन बातों की जांच करें

डीमैट अकाउंट फीस, एनुअल मेंटेनेंस चार्जेज, ट्रांजैक्शन फीस। लेनदेन शुल्क के बारे में दलालों के बीच एक बड़ा अंतर हो सकता है।

2-अन्य सुविधाएं

आपको ब्रोकरेज हाउस क्या-क्या सुविधा देंगे यह जरूर जान लें। इक्विटी ब्रोकिंग की सर्विस के अलावा कुछ ब्रोकरेज हाउस कई तरह की दूसरी सेवाएं भी देते हैं। जैसे कई ब्रोकरेज फर्म आपको समय-समय पर रिसर्च कराती रहती हैं। यह शोध आपको सही जगह निवेश करने में मदद करता है।

3-डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट

यह सबसे अच्छा है अगर आपका ब्रोकर आपको 2-इन-1 डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट (It is best if your broker gives you a 2-in-1 demat and trading account.) देता है। ट्रेडिंग अकाउंट के बिना डीमैट अकाउंट अधूरा है। ध्यान रखें कि आप केवल डिजिटल फॉर्म में शेयर को डीमैट अकाउंट में होल्ड कर सकते हैं। ट्रेडिंग अकाउंट से आप शेयर, आईपीओ, म्यूचुअल फंड और यहां तक कि गोल्ड में भी निवेश कर सकते हैं। उसके बाद आप उन्हें डीमैट अकाउंट में रख सकते हैं।

4-यह जानकारी भी है जरूरी

कुछ ब्रोकरेज हाउस आपको समय-समय पर अपने पोर्टफोलियो की जानकारी देते हैं। इससे निवेश से मिलने वाले रिटर्न का ट्रैक रखने में मदद मिलती है।

ALSO READ: Four key thumb rules for Home Loan: इन चार बातों का रखें ध्यान, रहेंगे Tension Free

5-कनेक्टिविटी

फोन और इंटरनेट दोनों का इस्तेमाल बिजनेस के लिए किया जा सकता है। यह जानना जरूरी है कि ब्रोकरेज हाउस में से कौन सी दो सुविधाएं उपलब्ध हैं। ज्यादातर ब्रोकर दोनों सुविधाएं देते हैं।