Haryana Congress:सैलजा की अगुवाई में प्रदर्शन करेंगे हुड्डा के विधायक, कुर्सी से बेदखल करने की रणनीति रहेगी जारी

Haryana Congress:हुड्डा की ओर से सभी विधायकों को कहा गया है कि वे अपनी पूरी टीम के साथ जोश-खरोश से इस पैदल मार्च में शामिल हों।

Haryana Congress:सैलजा की अगुवाई में प्रदर्शन करेंगे हुड्डा के विधायक, कुर्सी से बेदखल करने की रणनीति रहेगी जारी

Haryana Congress:हरियाणा में फिलहाल राज्य ईकाई की अध्यक्ष कुमारी सैलजा और राज्य के पूर्व सीएम भूपिंदर सिंह हुड्डा के बीच सीजफायर हो गया है। लेकिन हुड्डा विधायकों की सैलजा को हटाने की मुहिम जारी रहेगी। वहीं हरियाणा कांग्रेस के प्रभारी विवेक बंसल द्वारा सभी विधायकों से पार्टी संगठन के लिए किए गए कामकाज का हिसाब मांगने पर पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा समर्थक विधायकों ने अपनी रणनीति में मामूली बदलाव किया है।

कांग्रेस गुरुवार को पेगासस जासूसी कांड का विरोध करते हुए हरियाणा राजभवन तक पैदल मार्च निकालने वाली है। हरियाणा कांग्रेस की अध्यक्ष कुमारी सैलजा और प्रदेश प्रभारी विवेक बंसल इस मार्च का नेतृत्व करेंगे। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा समर्थक विधायक भी प्रदर्शन में शामिल होंगे। विधायकों को प्रदर्शन में शामिल होने के लिए हुड्डा और सैलजा दोनों की तरफ से अलग-अलग संदेश मिले हैं।

हुड्डा की ओर से सभी विधायकों को कहा गया है कि वे अपनी पूरी टीम के साथ जोश-खरोश से इस पैदल मार्च में शामिल हों। अभी तक हरियाणा कांग्रेस की ओर से महंगाई के विरोध में जितने भी आयोजन किए गए हैं, अधिकतर में हुड्डा समर्थक विधायक शामिल नहीं हुए। प्रदेश प्रभारी विवेक बंसल ने विधायकों से कार्यक्रमों का ब्योरा मांगा तो कई विधायक दस्तावेज पूरे करने की औपचारिकता निभाते नजर आए।

ALSO READ :- Trouble in Haryana Congress:हरियाणा कांग्रेस में छाया संकट! हुड्डा खेमे के नेताओं कर रहे हैं दिल्ली परिक्रमा

चंडीगढ़ व दिल्ली आवास पर तैयार हुई रणनीति 

हुड्डा के चंडीगढ़ और दिल्ली आवास से सभी विधायकों को कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए फोन पहुंचे। ऐसी सूचना सैलजा द्वारा भी विधायकों को दिए जाने का दावा किया जा रहा है। राज्यसभा सदस्य दीपेंद्र सिंह हुड्डा पहले ही राज्यसभा में किसानों की आवाज उठा रहे हैं। हुड्डा के विधायकों का प्रदर्शन में होने का मतलब हालांकि दोनों के बीच किसी सुलहनामे का संकेत नहीं है, लेकिन हुड्डा हाईकमान को बताना चाहते हैं कि वह पार्टी कार्यक्रमों के साथ हैं तथा उनके विधायकों के बिना कोई आयोजन पूरा नहीं हो सकता।