Home Remedies for Lungs: फेफड़ों में वार कर रहा खतरनाक कोरोना, घर में इन उपायों को बनाएं ढाल

Home Remedies for Lungs: कोरोना फेफड़ों को 25 फीसदी तक नुकसान पहुंचा रहा है और तेजी से बढ़ रहा है और उसके बाद टेस्ट में कोरोना संक्रमण (corona infection)का पता चल रहा है।

Home Remedies for Lungs: फेफड़ों में वार कर रहा खतरनाक कोरोना, घर में इन उपायों को बनाएं ढाल

Home Remedies for Lungs: कोरोना महामारी की दूसरी लहर (second wave of corona epidemic) देश में जारी है और अभी तक लाखों लोगों की मौत कोरोना संक्रमण (corona infection) के कारण हो गई है। वहीं दूसरी लहर में देश में कोरोना वायरस सीधे आपके फेफड़ों को नुकसान (Corona is causing lung damage) पहुंचा रहा है।

कोरोना फेफड़ों को 25 फीसदी तक नुकसान पहुंचा रहा है और तेजी से बढ़ रहा है और उसके बाद टेस्ट में कोरोना संक्रमण (corona infection)का पता चल रहा है। डाक्टरों का कहना है कि कोरोना के लक्षण दिखाई देने से पहले ही 25% लोगों के फेफड़े प्रभावित हो चुके हैं। लेकिन कुछ घरेलू उपाय करके और सही समय पर डॉक्टर से सलाह लेकर आप अपने फेफड़ों (Lungs) को सुरक्षित रख सकते हैं। आइए जानते हैं कि किन तरीकों से हम अपने फेफड़ों को कोरोना संक्रमण (corona infection) से बचा सकते हैं और उन्हें मजबूत रख सकते हैं।

अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

- दिन में तीन से चार बार गर्म पानी से भाप (Steam with hot water) लें। बेहतर होगा कि आप अजवाइन और कपूर को पानी में मिलाएं।
- गुनगुने पानी (lukewarm water) में नीबू डालकर पानी पीते रहें। यदि नींबू नहीं है, तो गर्म पानी का सेवन फेफड़ों को संक्रमण से भी बचाता है।
- ठंडे पानी का सेवन बिलकुल न करें। फलों में संतरे, सेब और नारियल पानी पीते रहें।

इन तरीकों से फेफड़ों को मजबूत (Strengthen the lungs) बनाएं

- सुबह उठकर अनुलोम विलोम करें 
- सीढ़ियों पर चलें
- गुब्बारे फुलाएं
- 20 सेकंड से 60 सेकंड तक सांस रोकें। ऐसा तीन बार करें

संक्रमित होने वाले फेफड़ों की पहचान(identify infected lungs) कैसे करें

- यदि सांस लेने में कठिनाई हो, तो समझें कि वायरस फेफड़ों को संक्रमित कर रहा है।
- अगर फेफड़ों के निचले हिस्से में सूजन या तेज दर्द हो, तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें।
-सूखी खांसी, विशेष रूप से छाती में दर्द भी कोरोना का लक्षण है।

ALSO READ:-India's Corona Update: देश में फिर कोरोना ने बनाया नया रिकार्ड, 3.32 लाख मामले दर्ज

लक्षण दिखने पर क्या करें-

- पहले घबराएं नहीं। एक डॉक्टर से परामर्श।
- अपने फेफड़ों का सीटी स्कैन करवाएं।
- हर आधे घंटे में ऑक्सी मीटर (oxy meter) के साथ अपने ऑक्सीजन के स्तर (oxygen level) की जाँच करें।
- परिवार के अन्य सदस्यों से दूरी बनाए रखें। अपने आप को किसी और के संपर्क में न आने दें।
- खाली पेट बिलकुल न रहें। खाली पेट पर रहने से वायरस आपके शरीर को अधिक प्रभावित कर सकता है।