Indian Premier League (IPL 2021): राजस्थान रॉयल्स ने सनराइजर्स को हराया

Indian Premier League (IPL 2021): लक्ष्य का पीछा करते हुए मनीष पांडे (31) और जॉनी बेयरस्टो (30) ने छह ओवर में 57 रन जोड़कर हैदराबाद को अच्छी शुरुआत दी, लेकिन अगले दो ओवर में दोनों ही पवेलियन लौट गए।

Indian Premier League (IPL 2021):  राजस्थान रॉयल्स ने सनराइजर्स को हराया

Indian Premier League (IPL 2021): डेविड वार्नर से कप्तानी छीनकर केन विलियमसन को सौंपने और वार्नर को अंतिम एकादश से बाहर करने का फैसला भी सनराइजर्स हैदराबाद की किस्मत को बदल नहीं सका और रविवार को दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में आइपीएल मैच में उसे राजस्थान रॉयल्स के हाथों 55 रन से हार का सामना करना पड़ा। जोस बटलर के टी-20 करियर के पहले शतक के दम पर राजस्थान ने दो विकेट पर 220 रन का विशाल स्कोर बनाया। बटलर ने 64 गेंदों पर 11 चौकों व आठ छक्कों की मदद से 124 रन बनाकर मौजूदा सत्र में अब तक की सबसे बड़ी पारी खेली। जवाब में हैदराबाद की टीम 20 ओवर में आठ विकेट पर 165 रन तक ही पहुंच सकी।

लक्ष्य का पीछा करते हुए मनीष पांडे (31) और जॉनी बेयरस्टो (30) ने छह ओवर में 57 रन जोड़कर हैदराबाद को अच्छी शुरुआत दी, लेकिन अगले दो ओवर में दोनों ही पवेलियन लौट गए। पांडे को मुस्तफिजुर रहमान ने बोल्ड किया, जबकि बेयरस्टो को राहुल तेवतिया ने चलता किया। इसके बाद हैदराबाद ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए। नए कप्तान केन विलियमसन सिर्फ 21 गेंदों पर सिर्फ 20 रन बना सके। इनके अलावा हैदराबाद का कोई भी बल्लेबाज 20 रन तक नहीं पहुंच सका। राजस्थान की ओर से मुस्तफिजुर और क्रिस मौरिस ने तीन-तीन विकेट झटके।

इससे पहले हैदराबाद के नए कप्तान विलियमसन ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया और पूर्व कप्तान वार्नर को अंतिम-11 में जगह नहीं दी। कप्तानी में बदलाव के साथ टीम की रणनीति में भी बदलाव दिखा, जब राशिद खान को पावरप्ले में तीसरे ओवर में ही गेंदबाजी आक्रमण पर लगाया गया और उन्होंने इसे सही साबित करते हुए यशस्वी जायसवाल (12) को एलबीडब्ल्यू आउट कर किया।

ALSO READ:-Indian Premier League (IPL 2021): फिर मुंबई इंडियन ने किया मैदान फतह

राजस्थान के कप्तान संजू सैमसन (48) ने क्रीज पर कदम रखते ही खलील अहमद की गेंद पर छक्के के साथ खाता खोला। इसी ओवर में बटलर ने भी अपना पहला चौका जड़ा। बटलर को राशिद के अगले ओवर में जीवनदान मिला, जब लांग ऑन पर विजय शंकर ने उनका मुश्किल कैच टपका दिया। उस समय बटलर ने सिर्फ सात रन बनाए थे। बटलर और सैमसन दोनों ने सातवें ओवर में शंकर पर एक-एक छक्का जड़कर 18 रन बटोरे। 10वें ओवर में संदीप शर्मा की गेंद पर मनीष पांडे ने सैमसन का आसान कैच टपका दिया। उस समय सैमसन ने 23 रन बनाए थे। बटलर ने संदीप के खिलाफ 13वें ओवर में छक्का लगाकर 39 गेंद में अर्धशतक पूरा किया।

सैमसन ने खलील के अगले ओवर में चौका जड़कर बटलर के साथ दूसरे विकेट के लिए शतकीय साङोदारी पूरी की। बटलर ने इसी ओवर में छक्का जड़ा, जिससे 14 ओवर के बाद टीम का स्कोर एक विकेट पर 125 रन हो गया। उन्होंने 15वें ओवर में गेंदबाजी के लिए आए मुहम्मद नबी का स्वागत दो छक्के और दो चौकों के साथ 21 रन बटोर कर किया। शंकर ने 17वें ओवर में सैमसन को आउट कर हैदराबाद को दूसरी सफलता दिलाई। सैमसन लांग ऑन के ऊपर से छक्का लगाने की कोशिश में अब्दुल समद के हाथों लपके गए। उन्होंने बटलर के साथ दूसरे विकेट के लिए 140 रन जोड़े। इंग्लिश बल्लेबाज बटलर ने इसी ओवर में चौका जड़ने के बाद एक रन लेकर 56 गेंदों में टी-20 करियर का पहला शतक पूरा किया। संदीप ने 19वें ओवर की अंतिम गेंद पर बटलर को बोल्ड कर उनकी पारी का अंत किया। हालांकि, इस ओवर में संदीप ने 24 रन लुटाए।