Online Class:ऑनलाइन क्लास में छात्र महिला टीचर्स को दिखाता था प्राइवेट पार्ट, जानें फिर क्या हुआ

Online Class:कक्षा 9 के एक छात्र को मुंबई पुलिस ने राजस्थान से हिरासत में लिया है। इस 15 वर्षीय छात्र पर ऑनलाइन कोचिंग क्लास के दौरान एक महिला टीचर को अपना प्राइवेट पार्ट दिखाने का आरोप है।

Online Class:ऑनलाइन क्लास में छात्र महिला टीचर्स को दिखाता था प्राइवेट पार्ट,  जानें फिर क्या हुआ

Online Class:कक्षा 9 के एक छात्र को मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने राजस्थान से हिरासत में लिया है। इस 15 वर्षीय छात्र पर ऑनलाइन कोचिंग क्लास (online coaching class) के दौरान एक महिला टीचर को अपना प्राइवेट पार्ट (private part) दिखाने का आरोप है। आरोपी किशोर एक आर्मी ऑफिसर का बेटा है और उसे कंप्यूटर की अच्छी जानकारी है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स (media reports) में यह बात कही गई है कि 15 फरवरी से 2 मार्च के बीच ई-कोचिंग क्लास के दौरान छात्र ने कई बार ऐसी हरकत की। छात्र मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी के साथ क्लास ज्वाइन करते हैं। आरोपी छात्र की हरकतों के कारण शिक्षिका ने ऑनलाइन क्लास (online class) बंद करने की सोचनी शुरू कर दी।

टीचर ने मुंबई के साकीनाका पुलिस स्टेशन (Sakinaka Police Station) में शिकायत दर्ज कराई। सर्विलांस से पता चला कि आरोपी छात्र राजस्थान में है। इसके बाद पिछले महीने पुलिस टीम को राजस्थान भेजा गया था। कई कोशिशों के बावजूद छात्र नहीं पकड़ गया क्योंकि उसकी लोकेशन (Location) बदल चुकी थी। पुलिस राजस्थान में थी और इस दौरान 30 मई को एक बार फिर उसने वही काम किया। इस बार उसकी लोकेशन जैसलमेर में मिली। इसके बाद पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया।

पुलिस ने जब लैपटॉप (laptop) की जांच की तो पता चला कि उसने ऐसी सेटिंग कर ली है कि आईपी एड्रेस को ट्रैक नहीं किया जा सकता। ऑनलाइन क्लास के दौरान उन्होंने कैमरे में अपना चेहरा नहीं दिखने दिया, लेकिन टीचर ने उनके बैकग्राउंड का स्क्रीनशॉट लिया। इस तस्वीर ने जांच में मदद की ।

ALSO READ: Who are Culprit of Gang Rape? वायरल वीडियो में रेप और मारपीट के आरोपी बेंगलुरू में गिरफ्तार, 5 आरोपियों में एक महिला भी

जांचकर्ताओं ने जब किशोर से घटना के बारे में पूछताछ की तो उसने बताया कि वह मौज-मस्ती के लिए ऐसा करता था। जिन दो महिला शिक्षकों (two female teachers) के साथ उन्होंने यह कृत्य किया था, उनमें से एक मुंबई में रहती है और दूसरी देश के दूसरे हिस्से में है। छात्रा को बाल न्यायालय में पेश कर संप्रेक्षण गृह भेज दिया गया।