प्रियंका गांधी के गहलोत को एक फोन पर भरतपुर गैंगरेप पीड़िता को मिली सुरक्षा, गहलोत के शासन पर उठने लगे हैं सवाल

असल में गैंगरेप की पीड़िता के परिवार के लोगों को आरोपी धमका रहे थे और राज्य की अशोक गहलोत सरकार इस मामले में कुछ नहीं कर रही थी। जिसके बाद पीड़़िता के परिवार ने प्रियंका गांधी से मिलने की योजना बनाई।

प्रियंका गांधी के गहलोत को एक फोन पर भरतपुर गैंगरेप पीड़िता को मिली सुरक्षा, गहलोत के शासन पर उठने लगे हैं सवाल

नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश के मथुरा में किसान महापंचायत को संबोधित किया था और इसी दौरान राजस्थान के भरतपुर की रेप पीडि़ता का परिवार में पंचायत में हंगामा किया। इसके बाद सुरक्षा कर्मियों ने पीड़िता के परिवार को किनारे कर दिया है और इसके बाद प्रियंका गांधी सामूहिक बलात्कार पीड़िता से मिलीं।

जब पीड़िता ने अपना मामला प्रियंका को बताया, तब कांग्रेस महासचिव ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से बात की और इसके बाद पीड़िता को सुरक्षा मिली। असल में गैंगरेप की पीड़िता के परिवार के लोगों को आरोपी धमका रहे थे और राज्य की अशोक गहलोत सरकार इस मामले में कुछ नहीं कर रही थी। जिसके बाद पीड़़िता के परिवार ने प्रियंका गांधी से मिलने की योजना बनाई।

दरअसल पीड़िता प्रियंका गांधी से मिली थी, वह मामला राजस्थान के भरतपुर का है। प्रियंका गांधी ने अशोक गहलोत से फोन पर बात की, जिसके बाद अशोक गहलोत ने भरतपुर के एसपी को और निर्देश दिए। ये मामला सुर्खियों में आने के बाद भरतपुर पुलिस हरकत में आई और एसपी देवेंद्र विश्नोई ने मामले की पूरी रिपोर्ट मुख्यमंत्री को भेज दी है। राजस्थान पुलिस द्वारा गैंगरेप पीड़िता और उसके परिवार को सुरक्षा भी प्रदान की गई है।

यह घटना 26 अप्रैल, 2020 को राजस्थान के भरतपुर में हुई। आरोप है कि 15 साल की पीड़िता के साथ तीन लोगों ने बलात्कार किया था, अब पीड़िता ने इस मामले में प्रियंका गांधी से गुहार लगाई है। प्रियंका गांधी वाड्रा मंगलवार को मथुरा में अपना भाषण दे रही थीं, तभी प्रियंका बीच में मंच से नीचे आईं और पीड़िता से मिलीं। बाद में प्रियंका ने पीड़ित से अलग से मुलाकात की और पूरी समस्या सुनी। गौरतलब है कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पश्चिमी उत्तर प्रदेश में किसान महापंचायतों में लगातार हिस्सा ले रही हैं। अब तक प्रियंका सहारनपुर, मथुरा, बिजनौर, मुज़फ्फरनगर में किसान महापंचायत को संबोधित कर चुकी हैं।