Puducherry Assembly Election -2021:पुडुचेरी में बनेगी एनडीए सरकार, कांग्रेस से हाथ से गया एक और राज्य

Puducherry Assembly Election -2021:चुनाव आयोग ने रविवार देर रात तक 30 विधानसभा सीटों में से 28 पर परिणाम घोषित कर दिए थे। इनमें से एआइएनआर कांग्रेस ने 10, भाजपा ने पांच, द्रमुक ने पांच और कांग्रेस ने दो सीटों पर जीत हासिल कर ली थी।

Puducherry Assembly Election -2021:पुडुचेरी में बनेगी एनडीए सरकार, कांग्रेस से हाथ से गया एक और राज्य

Puducherry Assembly Election -2021: पुडुचेरी विधानसभा के लिए छह अप्रैल को हुए मतदान के बाद रविवार को हुई मतगणना में समाचार लिखे जाने तक राजग के घटक दल एआइएनआर कांग्रेस ने 10 सीटों और सहयोगी भाजपा ने पांच सीटों पर जीत हासिल कर ली थी व एक सीट पर आगे चल रही थी। जबकि अन्नाद्रमुक एक भी सीट पर जीत हासिल नहीं कर सकी। कांग्रेस के नेतृत्व वाले सेकुलर डेमोक्रेटिक अलायंस (एसडीए) ने सात सीटों पर जीत हासिल की थी।

चुनाव आयोग ने रविवार देर रात तक 30 विधानसभा सीटों में से 28 पर परिणाम घोषित कर दिए थे। इनमें से एआइएनआर कांग्रेस ने 10, भाजपा ने पांच, द्रमुक ने पांच और कांग्रेस ने दो सीटों पर जीत हासिल कर ली थी। छह सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशियों ने जीत हासिल की। द्रमुक एक सीट पर बढ़त बनाए हुए थी। भाजपा के ए. नमाशिवयम ने मन्नाडिपेट से द्रमुक के ए. कृष्णन को पराजित किया। नमाशिवयम इसी साल जनवरी में कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे।

वहीं, भाजपा प्रत्याशी ए. जानकुमार और उनके पुत्र रिचर्ड जानकुमार ने क्रमश: कामराज नगर और नेल्लीथोप से जीत हासिल की। ए. जानकुमार पहले भी दो बार कामराजनगर से कांग्रेस के टिकट पर जीत चुके हैं। उन्होंने पूर्व उद्योग मंत्री एमओएचएफ शाहजहां को पराजित किया। वह इसी साल फरवरी में भाजपा में शामिल हुए थे।

ALSO READ:-राहुल गांधी के पुडुचेरी दौरे से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, अल्पमत में आई सरकार

एआइएनआर कांग्रेस के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री एन. रंगास्वामी ने थट्टनचावडी सीट से जीत हासिल की। एआइएनआर कांग्रेस प्रत्याशी यू. लक्ष्मीकंधन ने एंबलम (आरक्षित) सीट से कांग्रेस प्रत्याशी व पूर्व कल्याण मंत्री एम. कंडासामी को पराजित किया। कांग्रेस के एम. वैथीनाथन ने लासपेट सीट पर भाजपा की पुडुचेरी इकाई के अध्यक्ष वी. सामीनाथन को पराजित किया। सामीनाथन पिछली विधानसभा में नामित विधायक थे। जबकि वैथीनाथन कुछ महीने पहले एआइएनआरसी छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए थे।