UP Panchayat Poll Voting: पहले चरण का मतदान जारी, 18 जिलों में चल रही है वोटिंग

UP Panchayat Poll Voting: पंचायत चुनाव (Panchayat Election) में एक मतदाता को एक साथ जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य, ग्राम प्रधान और ग्राम पंचायत सदस्य के पद के लिए मतदान करने का नियम है।

UP Panchayat Poll Voting: पहले चरण का मतदान जारी, 18 जिलों में चल रही है वोटिंग

UP Panchayat Poll Voting: उत्तर प्रदेश में कोरोना संकट के बीच त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव(Panchayat Election) का पहला चरण चल रहा है और मतदान (Poll Voting) शाम छह बजे तक चलेगा। यूपी के पहले दौर में, जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य (बीडीसी), ग्राम प्रधान और ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य के पद के लिए 3.33 लाख से अधिक उम्मीदवार चुनावी मैदान में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। आज 18 जिलों में मतदान (Poll Voting) हो रहा है निर्वाचन आयोग ने इसके लिए सभी तरह की तैयारियां की हैं।

कोरोना संकट के बीज आज यूपी के 18 जिलों में मतदान शुरू हो गया है। इनमें अयोध्या, आगरा, कानपुर नगर, गाजियाबाद, गोरखपुर, जौनपुर, झांसी, प्रयागराज, बरेली, भदोही, महोबा, रामपुर, रायबरेली, श्रावस्ती, संत कबीर नगर, सहारनपुर, हरदोई और हाथरस जिले शामिल हैं। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गृह जिले गोरखपुर और सपा के कद्दावर नेता आजम खान के रामपुर में भी वोटिंग (Poll Voting) जारी है।

18 जिलों में हो रहा है मतदान

पंचायत चुनाव (Panchayat Election) में एक मतदाता को एक साथ जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य, ग्राम प्रधान और ग्राम पंचायत सदस्य के पद के लिए मतदान करने का नियम है। यूपी चुनाव आयोग के अनुसार, पहले चरण में 18 जिलों में जिला पंचायत सदस्यों के 779 पदों के लिए 11,442 उम्मीदवार मैदान में हैं। इसी प्रकार, क्षेत्र पंचायत सदस्य के 19,313 पदों के लिए 81,747, ग्राम प्रधान के 14,789 पदों के लिए 1,14,142 उम्मीदवार और ग्राम पंचायत के वार्ड सदस्यों के 1,86,583 पदों के लिए 1,26,613 उम्मीदवार मैदान में हैं।

सेमीफाइनल माने जा रहे हैं पंचायत चुनाव (Panchayat Election) 

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले होने वाले पंचायत चुनावों (Panchayat Election) को 2022 का 'सेमीफाइनल' माना जा रहा है। यही कारण है कि इस बार पंचायत चुनाव के मैदान में भाजपा, सपा, बसपा और कांग्रेस के साथ आम आदमी आम आदमी पार्टी, और असदुद्दीन ओवैसी के नेतृत्व वाली ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन ने अपने उम्मीदवारों को जिला पंचायत सगस्या में मैदान उतारा है।

गोरखपुर में पंचायत चुनाव

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में गोरखपुर जिले में पहले चरण में पंचायत चुनाव (Panchayat Election) हो रहे हैं। गोरखपुर जिले में 20 ब्लॉक हैं। यहां 1294 ग्राम प्रधानों के लिए 8822 उम्मीदवार मैदान में हैं। हालांकि, 68 जिला पंचायत सदस्यों के पद के लिए 868 उम्मीदवार मैदान में हैं। गोरखपुर जिला पंचायत अध्यक्ष का पद सामान्य है, जिसके कारण इस बार राजनीतिक दलों के बीच भीषण प्रतिस्पर्धा होगी। यही कारण है कि जिला पंचायत सदस्य के लिए सत्ताधारी भाजपा से लेकर विपक्षी पार्टी सपा, कांग्रेस और भाजपा ने पूरी ताकत झोंक दी है।

रायबरेली में सोनिया की कांग्रेस की परीक्षा

वहीं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली में हो रहा है। कुल 18 ब्लॉक हैं, जहां 988 ग्राम प्रधान सीटें हैं। रायबरेली में 52 जिला पंचायत सदस्यों के पद के लिए 708 उम्मीदवार मैदान में हैं। इसके अलावा 1301 बीडीसी सीटें हैं। हालांकि, कई ग्राम प्रधानों और बीडीसी के कई सदस्यों को निर्विरोध चुना गया है।

Also Read:- UP Panchayat Election: गांव की सरकार के लिए कल पड़ेंगे वोट

आजम खान के रामपुर में भी आज मतदान

सपा सांसद आजम खान का मजबूत क्षेत्र माने जाने वाले रामपुर जिले में पहले चरण में पंचायत चुनाव (Panchayat Election) भी हो रहे हैं। इस बार आजम खान के जेल में रहने के दौरान पंचायत चुनाव हो रहे हैं। रामपुर में जिला पंचायत सदस्य के 34 पदों पर चुनाव होने हैं, जिले में ग्राम प्रधानों के 680 पद हैं, जबकि ग्राम पंचायत सदस्य के 8504 पद और क्षत्र पंचायत सदस्य के भी 859 पद हैं। रामपुर की जिला पंचायत अध्यक्ष की सीट अनारक्षित है।